How to do Kalash Staphna in Navratri | Navratri Kalash Sthapana vidhi in hindi 2021 | kalash sthapana vidhi in durga puja 2021 in Hindi

Navratri- नवरात्रि हिन्दुओ का प्रमुख त्योहारों में से एक है, इन 9 दिनों में देवी दुर्गा के सभी रूपों की जाती है। पूजा करने से पूर्व सभी के यहाँ कलश को स्थापित किया जाता है, जिसे माँ दुर्गा (Maa Durga) का प्रतीक माना जाता है। नवरात्रि के इस अवसर पर हम आपको बताते है की नवरात्री (Navratri) की पूजा से पूर्व हम कलश (Kalash Sthapana) को कैसे स्थापित करें।


Navratri Kalash Sthapana Vidhi
Navratri Kalash Sthapana Vidhi



जाने कलश स्‍थापना कैसे करें? (Navratri Kalash Sthapana Vidhi)


  • नवरात्रि (Navratri) के पहले दिन यानी कि प्रतिपदा को सुबह स्‍नान कर लें। में 
  • मंदिर की साफ-सफाई करने के बाद सबसे पहले गणेश जी का नाम लें और फिर मां दुर्गा के नाम से अखंड ज्‍योत जलाएं।
  • कलश स्‍थापना (Kalash Sthapana) के लिए मिट्टी के पात्र में मिट्टी डालकर उसमें जौ के बीज बोएं।
  • अब एक तांबे के लोटे पर रोली से स्‍वास्तिक बनाएं. लोटे के ऊपरी हिस्‍से में मौली बांधें।
  • अब इस लोटे में पानी भरकर उसमें कुछ बूंदें गंगाजल की मिलाएं, फिर उसमें सवा रुपया, दूब, सुपारी, इत्र और अक्षत डालें।
  • इसके बाद कलश (Kalash) में अशोक या आम के पांच पत्ते लगाएं।
  • अब एक नारियल को लाल कपड़े से लपेटकर उसे मौली से बांध दें, फिर नारियल को कलश के ऊपर रख दें।
  • अब इस कलश (Kalash) को मिट्टी के उस पात्र के ठीक बीचों बीच रख दें जिसमें आपने जौ बोएं हैं। 
  • कलश स्‍थापना (Kalash Sthapana) के साथ ही नवरात्रि (Navratri) के नौ व्रतों को रखने का संकल्‍प लिया जाता है। 
Previous Post Next Post