भारत में 2020 में कोरोनावायरस की पहली लहार के बाद 2021 में दूसरी लहर का प्रकोप लगातार बढ़ता जा रहा है, आये दिन लाखों केस हर रोज आ रहे है और हज़ारों लोगों की मृत्यु हो रही है। देश में कोरोना के प्रकोप के कारण लोगों में भय का माहौल है और इसी के कारण कुछ लोग आम बुखार- जुकाम को भी कोरोना समझ बैठे है। इसी को देखते हुए हम इस पोस्ट में आपको कोरोना वायरस और आम बुखार-जुकाम में अंतर बता रहे है - Difference Between Coronavirus and Normal Fever Flu



आज के समय में अगर घर में किसी को साधारण बुखार या खाँसी भी हो तो ध्यान सीधा कोरोना वायरस पर ही जाता है, जिस कारण व्यक्ति खुद को मानसिक रूप से कमजोर समझने लगता है। इसके लिए फ्लू, सर्दी-जुकाम और कोरोना में अंतर (Difference Between Coronavirus and Normal Fever Flu) समझना जरुरी है। तो आइये जानते है की कोरोना, फ्लू और आम बुखार, जुकाम को कैसे पहचाने।


कोरोनावायरस और आम बुखार-जुकाम में अंतर - Difference Between Coronavirus and Normal Fever Flu
Difference Between Coronavirus and Normal Fever Flu



कोरोना वायरस और आम बुखार-जुकाम में अंतर - Difference Between Coronavirus and Normal Fever Flu

अगर आपको सूखी खाँसी और छींक आती है तो ये एक तरीके से वायु प्रदुषण के लक्षण है। 


आपको अगर खाँसी, बलगम और छींक के साथ साथ नाक भी बहने लगे तो ये सामान्य जुकाम के लक्षण है। 


आपको अगर खाँसी, बलगम, छींक, नाक बहना और इन सबके साथ शरीर में दर्द बना रहे तथा कमजोरी व हल्का बुखार हो तो ये फ्लू के लक्षण है। 


यह भी पढ़े- कोरोना वायरस के कहर से बचना चाहते है तो रखे इन 8 बातो का ख्याल


सूखी खाँसी, छींक, शरीर में दर्द, कमजोरी, तेज भुखार और सांस लेने में दिक्कत है तो यह कोरोना वायरस हो सकता है। इसके लिए आपको अगर ऐसा है तो सबसे पहले डॉक्टर से परामर्श लेकर कोरोना वायरस की जाँच कराये।


इसके साथ ही आपको बता दे की अगर आपको लगता है की आप कोरोना वायरस की चपेट में आ चुके है तो सबसे पहले कोरोना के लिए अपनी जाँच कराये क्योकि कभी कभी कोरोना के सभी लक्षण मरीज में नहीं आते और आखिर में उसे दिकत्तो का सामना करना पड़ता है।


कोरोना होने के बाद समय समय पर ऑक्सीमीटर से अपना ऑक्सीज़न लेवल और हार्टबीट जरूर चैक करें तथा चिकित्सक द्वारा दी गयी दवाई सही समय पर ले। इसी के साथ आप केवल गुनगुना पानी पिए और हर रोज 3-4 बार स्टीम ले, सुबह को योगा करें और पौष्टिक आहार खाये, जिससे आपकी इम्युनिटी बनी रहें।

Previous Post Next Post