पुलवामा हमला जम्मू-कश्मीर के सबसे घातक आतंकी हमलों में से एक है, जिसमें केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 40 जवान शहीद हो गए थे। इस हमले में एक जैश आत्मघाती हमलावर ने पुलवामा जिले में अपनी बस में 100 किलोग्राम विस्फोटक ले जा रहे एक वाहन को टक्कर मार दी थी। जिसमे हमारे देश के जवान शहीद और कई गंभीर रूप से घायल हो गए थे। चलिए जानते है अब पुलवामा हमले के बारे में विस्तार से - पुलवामा हमला कब हुआ था - Pulwama Attack Kab Hua Tha in Hindi 



Pulwama Attack Kab Hua Tha Date and Time in Hindi
Pulwama Attack Kab Hua Tha Date and Time in Hindi




पुलवामा हमला कब हुआ था - Pulwama Attack Kab Hua Tha in Hindi 

पुलवामा हमला 14 फरवरी 2019 को जम्मू कश्मीर के पुलवामा में हुआ था, जिसमे हमलावर आतंकवादी ने 100 किलोग्राम विस्फोटक से भरी गाड़ी हमारे जवानों की बस से टकरा दी थी। इसमें 40 जवान शहीद व अन्य घायल हुए थे। इस हमले से पहले 2,500 सीआरपीएफ कर्मियों को लेकर 78 बसों का काफिला जम्मू से श्रीनगर की ओर जा रहा था।





पुलवामा हमला किसने किया था - Pulwama Attack Kisne Kiya Tha

पाकिस्तान स्थित आतंकी समूह जैश-ए-मोहम्मद ने हमले की जिम्मेदारी लेने का दावा किया था। पुलिस ने आत्मघाती हमलावर की पहचान पुलवामा के काकापोरा निवासी आदिल अहमद उर्फ ​​वकास कमांडर के रूप में की थी।




भारतीय सेना ने की थी बड़ी एयर स्ट्राइक, लिया था बदला - Air Strike on Pakistan Kab Hua Tha 

Air Strike Kab Hua Tha- 26 फरवरी, 2019 को, सुबह 03:30 बजे, "मिराज 2000" भारतीय वायु सेना के फाइटर जेट के एक समूह ने एलओसी के पार जेएम के प्रमुख आतंकवादी शिविरों को नष्ट कर दिया और इंडियन आर्मी पर हुए हमले का बदला लिया था।

 



एक ही नब्ज पर दुख और गुस्सा प्रदान करते हुए, हमले ने भारत को 14 फरवरी के 12 दिनों के बाद पाकिस्तान के बालाकोट में हमले करने का नेतृत्व किया। इसका उद्देश्य बालाकोट के घने जंगलों में जैश-ए-मोहम्मद (JeM) के शिविर पर बमबारी करना था, जिसके बाद भारत और पाकिस्तान ने अपने हवाई क्षेत्र की कड़ी निगरानी की। इसके साथ ही, भारत ने कश्मीर में हजारों सैनिकों को भेजा और घाटी में सुरक्षा बढ़ा दी।





आज हो गए 2 साल पुरे - Pulwama Attack Black Day For India

घाटी के 30 साल पुराने उग्रवाद के दौर में पुलवामा हमले का यह दिन सबसे रक्तमय रहा है। 14 फरवरी 2019 का दिन हमारे देश के लिए एक काला दिन था और अब 14 फरवरी 2021, रविवार को पुलवामा आतंकी हमले के दो साल पूरे हो गए जब केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) के 40 जवान एक आत्मघाती हमलावर द्वारा एक आईईडी से लदे वाहन को सुरक्षा काफिले में ले जाने के बाद मारे गए।


यह भी पढ़े- 

Post a Comment

Please share our post with your friends for more learning and earning.

Previous Post Next Post