हिन्दू पंचांग के अनुसार, होलिका दहन हर साल फाल्गुन मास की पूर्णिमा तिथि को किया जाता है और अगले दिन होली खेलने की परंपरा है। सांस्कृतिक और धार्मिक दृष्टि से होली के त्यौहार का अपना ही महत्व है, और इसे बुराई पर अच्छाई की जीत के जश्न में मनाया जाता है। होली के लिए माना जाता है की इस दिन कुछ तरह के उपाय करने से कई प्रकार के लाभ होते है। 



देसी भाषा में कुछ लोग होली के उपाय को होली के टोटके भी कहते है, जिन्हे करके आप अपने जीवन में लाभ प्राप्त कर सकते है। होली के टोटके कुछ इस प्रकार है - 


Holi Ke Totke in Hindi - होली के अचूक टोटके और होली के दिन उपाय
Holi Ke Totke in Hindi - होली के अचूक टोटके और होली के दिन उपाय



होली के उपाय | होली के टोटके इन हिंदी | होली पर क्या टोटके करें | होली पर क्या करें | Holi Ke Totke in Hindi | Lal Kitab ke Holi Ke Totke | Holi Totke Lal Kitab in Hindi



  • होलिका विभाजन के दिन घर से उतारा गया टोटका और शरीर के उबटन को होलिका में जलाने से नकारात्मक शक्तियां दूर होती हैं।


  • घर, दुकान और कार्यस्थल की अनदेखी उतारकर उसे होलिका में विभाजित करने से लाभ होता है।




  • डर और कर्ज से निजात पाने के लिए नरसिंह स्तोत्र का पाठ करना लाभदायक होता है।


  • होलिका दहन के बाद जलती अग्नि में नारियल झाड़ने से नौकरी की बाधाएं दूर होती हैं।


  • लगातार बीमारी से परेशान हैं, तो होलिका दहन के बाद बची राख रोगी के सोने वाले स्थान पर छिड़कने से लाभ मिलता है।


  • सफलता प्राप्ति के लिए होलिका दहन स्थल पर नारियल, पान और सुपारी भेंट करें।


  • गृह क्लेश से निजात पाने और सुख-शांति के लिए होलिका की अग्नि में जौ-आटा चढ़ाएं।


  • होलिका दहन के दूसरे दिन छेद के बारे में उसे लाल रुमाल में बांधकर पैसों के स्थान पर रखने से बेकार खर्च रुक जाते हैं।




  • दांपत्य जीवन में शांति के लिए होली की रात उत्तर दिशा में एक पाट पर सफेद कपड़ा बिछाकर कि पर मूंग, चने की दाल, चावल, गेहूं, मसूर, काले उड़द और तिल के ढेर पर नवग्रह यंत्र स्थापित करें। इसके बाद केसर का तिलक कर घी का दीपक जलाकर पूजन करें।


  • जल्द शादी के लिए होली के दिन सुबह एक पान के पत्ते पर साबूत सुपारी और हल्दी की गांठ के साथ शिवलिंग पर चढ़ाएं और बिना पलटे घर आ जाएं। अगले दिन भी यही प्रयोग करें।


  • बुरी नजर से बचाव के लिए गाय के गोबर में जौ, अरसी और कुश सहित छोटे उपला बना कर इसे घर के मुख्य दरवाजे पर लटका दें।


  • होलिका दहन की रात तगर, काकझा, केसर को “क्लीं कामदेय फट् स्वाहा” मंत्र से अभिमंत्रित कर होली के दिन इसे अबीर या गुलाल में मिलाकर किसी के सिर पर डालने से वह शीश में हो जाता है।


  • होली की रात “धन नमो धनदाय स्वाहा” मंत्र के जाप से धन में वृद्धि होती है।


  • 21 गोमती चक्र के बारे में होलिका दहन की रात शिवलिंग पर चढ़ने से व्यापार में लाभ होता है।


  • उधार की राशि वापस पाने के लिए होलिका दहन स्थल पर अनार की लकड़ी से उसका नाम लिखकर होलिका माता से अपने धन शोधन का निवेदन करते हुए उसके नाम पर मिश्रित गुलाल छिड़कने से लाभ होगा।



  • होली की रात 12 बजे किसी पीपल वृक्ष के नीचे घी का दीपक जलाने और सात परिक्रमा करने से सारी बाधाएं दूर होती हैं।


  • गोमती चक्र, कौड़ियाँ और बताशे जलती होली में स्वयं पर से उतार कर डालने से भी जीवन की हर बाधा स्वाहा हो जाती है।



ऊपर दिए गए किसी भी टोटके/उपाय से हमारी वेबसाइट और इसके ऑथर का कोई भी मतलब नहीं है। ये सभी इंटरनेट की मदद से ढूंढ कर आपके लिए लिखे गए है।


Post a Comment

Please share our post with your friends for more learning and earning.

Previous Post Next Post