हम लोगों के जीवन में दोस्ती का एक विशेष महत्त्व होता है, अब चाहे बड़ा हो या छोटा सभी का कोई न कोई दोस्त जरूर होता है। इन्हीं दोस्तों के लिए साल में एक बार एक दिन ऐसा आता है, जिसे सभी दोस्त मिलकर साथ में मनाते है, जिसे हम फ्रेंडशिप डे के नाम से जानते है। यह दिन सभी दोस्तों के लिए एक अहम दिन होता है, जिसमे दोस्ती को एक नयी पहचान मिलती है। 


फ्रेंडशिप डे का ये मौका हर इंसान के लिए खास होता है, कहाँ जाता है की दोस्ती का रिश्ता एक ऐसा रिश्ता होता है, जिसे लोग खुद से बनाते है। खून का तो नहीं लेकिन दोस्तों के दिल एक दूसरे से जुड़े होते है। दुनिया के कई देशो में अलग अलग दिन फ्रेंडशिप डे मनाया जाता है। चलिए अब जानते है की 2021 में फ्रेंडशिप डे कब है - 2021 mein Friendhip Day Kab Hai



2021 में फ्रेंडशिप डे कब है - 2021 mein Friendship Day Kab Hai
2021 में फ्रेंडशिप डे कब है - 2021 mein Friendship Day Kab Hai


2021 में फ्रेंडशिप डे कब है - 2021 mein Friendship Day Kab Hai

अगर भारत की बात करें तो, भारत में दोस्ती का यह दिन अगस्त के महीने के पहले रविवार को मनाया जाता है, साल 2021 में हैप्पी फ्रेंड्शिप डे अगस्त 2021 के पहले रविवार यानि 1 अगस्त को ही मनाया जाता है। इंडिया के साथ साथ मलेशिया देश भी इस दिन फ्रेंडशिप डे मनाता है। इसके अलावा दुनिया के अलग अलग हिस्सों में भी इस दिन को मनाने की परंपरा है। 



फ्रेंडशिप डे वाले दिन क्या करना चाहिए -  Friendship Day Par Kya Kare

भारत में हैप्पी फ्रेंडशिप डे रविवार को मनाये जाने के कारण, लोगों का उत्साह दोगुना हो जाता है और इस दिन रविवार की छुट्टी होने के कारण, सभी के लिए सोने पे सुहागा वाली बात सही साबित होती है। इस दिन हम अपने दोस्त को ग्रीटिंग कार्ड्स, चॉकलेट और अन्य बहुत से गिफ्ट भी दे सकते है। इसके अलावा हम फ्रेंडशिप डे वाले दिन अपने फ्रेंड्स के साथ मूवी देखने या फिर डिनर करने का भी प्लान करते है। 





फ्रेंडशिप डे क्यों मनाया जाता है - Friendship Day Kyo Manaya Jata Hai

ऐसा माना जाता है की पहली बार फ्रेंडशिप डे की शुरुआत साल 1935 में अमेरिका से हुई थी। 1935 में अमेरिका में वहाँ की सरकार ने एक आदमी की हत्या कर दी थी, जिसके बाद उस आदमी के दोस्त ने भी आहात होकर आत्महत्या कर ली थी। तब से अमेरिका की सरकार ने उस दिन को मित्रता दिवस के रूप में मनाने का ऐलान किया। इसके अलावा एक दूसरे किस्से के अनुसार वर्ष 1930 में जोएस हॉल नाम के एक बिजनेसमैन ने अपने दोस्त को तोहफे के रूप में कार्ड्स और फ्रैंडशिप गिफ्ट्स देकर इस दिन की शुरुआत की थी। 


यह भी पढ़े- 

कमेंट करें

Please share our post with your friends for more learning and earning.

और नया पुराने